Home नागपूर कोयला सचिव डॉ. अनिल कुमार जैन ने वेकोलि के कार्य-निष्पादन को सराहा;

कोयला सचिव डॉ. अनिल कुमार जैन ने वेकोलि के कार्य-निष्पादन को सराहा;

20 views
0

विदर्भ वतन न्यूज पोर्टेल नागपूर ;

देश की ऊर्जा आपूर्ति की जिम्मेदारी कोल कंपनी की है – डॉ. अनिल कुमार जैन
नागपुर 15 फरवरी 2022
 
डॉ. अनिल कुमार जैन, सचिव कोयला मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली ने  कंपनी-मुख्यालय में वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के कार्य-निष्पादन की समीक्षा की. उन्होंने सुझाव दिया कि वेकोलि नयी तकनीक का उपयोग कर राष्ट्र की उर्जा-ज़रूरतों की पूर्ति में और योगदान देने की तैयारी करे, साथ ही, लाभप्रदता की अन्य सम्भावनाओं को भी तलाशे. श्री जैन ने मानव संसाधन के कौशल विकास प्रशिक्षण पर जोर दिया. उन्होंने वेकोलि के पर्यावरण की दिशा में किये गए पौधारोपण की भी सराहना की. डॉ. जैन ने कम्पनी-कर्मियों को इस वित्तीय वर्ष के बचे शेष दिनों में अपना उत्पादन-लक्ष्य प्राप्त करने के लिए शुभकामनाएं दीं .
 
समीक्षा-बैठक में वेकोलि के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक श्री मनोज कुमार ने कम्पनी की विविध गतिविधियों का विवरण प्रस्तुत किया. बैठक में निदेशक (कार्मिक) डॉ. संजय कुमार, निदेशक तकनीकी (संचालन) श्री जय प्रकाश द्विवेदी, मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री अमित कुमार श्रीवास्तव, श्री मुकेश चौधरी, डायरेक्टर (सीपीडी/आईसी) कोयला मंत्रालय तथा सीएमपीडीआईएल नागपुर के क्षेत्रीय निदेशक श्री मनोज कुमार, सभी क्षेत्रों के महाप्रबंधक एवं मुख्यालय के विभागाध्यक्ष से भी डॉ. जैन ने संवाद किया. इससे पूर्व कोयला सचिव ने श्रम संघ और सीएमओएआई के वरिष्ठ प्रतिनिधि गण सर्व श्री सुनील मिश्रा, सी. जे. जोसफ़ और सौरभ दुबे से भेंट की और विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की.
 
अपने नागपुर दौरे के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2023-24 तक कोयला उपभोक्ताओं को बिजली उत्पादन के लिए कोयले के आयात की आवश्यकता नहीं होगी. उनकी जरूरतों की पूर्ति देश के उत्पादित कोयले से करने की दिशा में हम आगे बढ़ रहे हैं. आगे उन्होंने कहा कि अगले वित्तीय वर्ष में कोल इंडिया 700 मिलियन टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य हासिल करेगा.
 

डॉ. अनिल कुमार जैन ने प्रमुख विद्युत निर्माताओं महाजेनको, एमपीजीसीएल, एनटीपीसी, गुजरात पावर, अदानी पावर, जीएमआर आदि से बैठक की. सभी ने वेकोलि की ओर से पर्याप्त मात्रा में कोयला उपलब्ध करवाने के लिए संतुष्टि जाहिर की और भविष्य में भी वेकोलि से सहयोग की अपेक्षा रखी.

 
सोमवार दिनांक 14 फरवरी को डॉ. अनिल कुमार जैन, सचिव, कोयला मंत्रालय (भारत सरकार) एवं उनके साथ पधारे श्री मुकेश चौधरी, डायरेक्टर (सीपीडी/आईसी) ने वेकोलि के वणी क्षेत्र की निलजई खुली खदान के साउथ सेक्शन का निरीक्षण किया। डॉ. जैन ने वणी क्षेत्र को और कोरोना की दूसरी लहर के दौरान विशेष सेवा प्रदान करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को सम्मानित किया।